भारत की चीनी वायरस कोरॉना कोविड 19 के खिलाफ जंग।

कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर में मरने वालों की संख्या शुक्रवार को 10,030 हो गई। जबकि कन्फर्म मामलों की कुल संख्या2,44,523 हो गई है।

कोरोना के 81,199 कन्फर्म मामलों के साथ चीन सबसे ऊपर है, इसके बाद 41,035 मामलों के साथ इटली दूसरे स्थान पर है। दुनियाभर में कुल 4,440 लोग बीमारी से ठीक हुए हैं।

चीन के बाहर कोरोना से सबसे बुरी तरह प्रभावित देश इटली में इस बीमारी की वजह से 3,405 लोगों की मौत हो चुकी है।

चीन में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन कोई नया घरेलू कोरोनावायरस संक्रमण का मामला सामने नहीं आया और दो महीनों में घातक बीमारीके कारण सबसे कम मौतें हुईं। इटली और चीन के अलावा, अन्य बुरी तरह से प्रभावित देशों में ईरान (18,407), स्पेन (18,077), जर्मनी (15,320) और अमेरिका (14,250) हैं। कोरोना से बुरी तरह प्रभावित तीसरा देश ईरान है, जहां 1,284 लोगों की मौत हुई है।

19 मार्च 2020 यानी गुरुवार तक अमेरिका में कोरोना वायरस के कुल 10,491 मामले हो गए. जो कि पहले 3404 था. वहीं, मरने वालों की संख्या एक दिन में करीब तीन गुना ज्यादा हो गई. अमेरिका में पहले मरने वालों की संख्या 53 थी जो 19 मार्च को बढ़कर 150 हो गई।

कोरोना के कदम:

चरण 1: संक्रमण आयात किया जाता है, जो कि एक संक्रमित व्यक्ति विदेश से आता है।

चरण 2: स्थानीय संचरण, जब यह ज्ञात संक्रमित व्यक्ति (रोग) उन लोगों को बीमारी पहुंचाता है जिनसे वह (परिवार, दोस्तों और इस तरह) के साथ बातचीत करता है।

चरण 3: सामुदायिक संचरण, जिसमें संक्रमण के स्रोत को इंगित करना मुश्किल है और कोई व्यक्ति किसी भी यात्रा इतिहास या सकारात्मक संपर्क के बिना किसी भी संपर्क इतिहास के बिना सकारात्मक परीक्षण करता है।

चरण 4: जब बीमारी को महामारी घोषित किया जाता है, जहां यह पूरे देश में फैल गया है। भारत वर्तमान में प्रकोप के चरण 2 पर है।

भारत में करोना:

भारत कोरोना को स्टेज 2 पर रखने और उस स्तर पर इसे खत्म करने के लिए लड़ रहा है। और अभी आत्म अलगाव और सामाजिक समारोहों से पीछे हटने का पालन कर रहा है जो और यूरोप में कई देशों ने गलती से नहीं किया या देर में किया। इस बीमारी जिसका इलाज नहीं है उसे ना होने देना ही इलाज है।

सबसे बड़ी समस्या उन लोगों से है जिनको एकांतवास करना था पर वह बाहर घूम घूम कर ओर लोगों को बीमार कर रहे है। लखनऊ में एक महिला ने सैकड़ों लोगों को संक्रमण की खतरे में डाल दिया। ऐसे लोग बीमारी को स्टेज 3 में पहुंचने में लगे है। इसी को रोकने के लिए अलग अलग मोहल्लों या शहरों में लॉक डाउन किया जा रहा है ताकि सामाजिक संक्रमण को रोका जा सके। सबको अपनी अपनी जिम्मदारी को निभाना होगा।

घर पर रहे। बाहर कम निकले। लोगों से दूर रहे। रोजाना स्नान करें। बार-बार हाथ धोये। घर को रोज कीटाणु नाशक से साफ रखें। सुरक्षित रहे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s